• home
  • contact us

Welcome to Bcc Bank

भोपाल को – आपरेटिव सेन्ट्रल बैंक लिमिटेड,भोपाल का पंजीयन कं 1433 दिनॉंक 10-02-1955 है,उक्त बैंक राजधानी में विगत 46 वर्षो से भोपाल जिले में ग्रामीण तथा शहरी क्षैत्रां में विभिन्न प्रकार की सेवायें लोगों को अपनी 16 शहरी शाखाआें एवं 7 ग्रामीण शाखाआें के माध्यम से उपलब्ध करा रहा है । बैंक द्वारा शहरी तथा ग्रामीण क्षैत्रां में विभिन्न प्रकार की अमानतें संग्रह की जाती है,अमानतां पर अन्य बैकां की तुलना में आधा प्रतिशत अधिक ब्याज दिया जाता है। शहरी क्षैत्रां के लिये बैंक द्वारा बिल कलेक्शन,ड्राफट जारी करने और लाकर्स आदि की सुविधायें प्रदान की जाती है ,जबकि ग्रामीण क्षैत्रां में कृषि समितियां के माध्यम से कृषकां को अल्पकालीन तथा मध्यमकालीन ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है।ग्रामीण क्षैत्रां में बैंक से सम्बद्ध समितियां द्वारा 34 रासायनिक खाद वितरण केन्द्र चलाये जा रहे है,इसके अर्न्तगत कृषि उत्पादन में वृद्धि किये जाने के उददेश्य से कृषकों को वर्ष 1998-99 में जहॉं 12377 टन विभिन्न प्रकार का रासायनिक खाद वितरित किया गया था ,वहीं वर्ष 99-2000 में 14488 टन खाद का वितरण किया गया इस प्रकार दवा,कल्चर,थायरम आदि के लगभग 1 लाख 4 हजार पैकेट भी कृषकां को इन समितियां के माध्यम से वितरित कराये गये है । लगभग 150 उचित मूल्य की दुकानां द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अर्न्तगत आवश्यक तथा अन्य उपभोक्ता वस्तुयें वितरित कराई जा रही है।

बैंक की अॅंशपूॅेंजी में गत वर्ष 98-99 की अपेक्षा इस वर्ष लगभग राशि रू.16.00 लाख की वृद्धि हुई है,तथा अमानतें रू.194.00 करोड़ से बढ़कर लगभग राशि रू. 201.00 करोड़ हो गई है । वर्ष 2000-2001 में अमानतां में वृद्धि की बढ़ोत्तरी का लगभग अनुमान 32 प्रतिशत है । बैंक की कार्यशील पूॅंजी में गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष लगभग रू. 35.00 करोड़ की वृद्धि हुई है । वर्ष 1999-2000 हेतु 950.00 लाख अल्पकालीन ऋण वितरण का लक्ष्य के विरूद्ध रू.828.25 लाख का ऋण बॉंटा गया ,पिछले वर्षो की तुलना में वर्ष 99-2000 में बैंक की वसूली 10.00 प्रतिशत बढ़ी है ।

वर्ष 1997 में हुये चुनाव के फलस्वरूप नये संचालकमंडल ने दिनॉंक 5.2.97 को श्री सुभाष शुक्ला जी की अध्यक्षता में कार्यभार ग्रहण किया गया,नये संचालकमंडल द्वारा कार्यभार ग्रहण किये जाने के पश्चात संचालक मंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि भोपाल जिले के किसानां को नावार्ड / रिजर्व बैंक एवं अपेक्स बैंक द्वारा जारी किये गये पत्रानुसार किसानां को ऋण वितरण के कार्यक्रम अर्न्तगत अधिक से अधिक ऋण बैंक की सहकारी समितियां के माध्यम से उपलब्ध कराया जावेगा ताकि कृषकों को किसी दूसरी ऐजेन्सी अथवा साहूकारां से कर्ज़ न लेना पड़े जिससे उनकी आर्थिक हालत खराब न हों इस बात को मददेनजर रखते हुये किसानां के लिये सिंचाई कार्य हेतु स्प्रिंकलर टयूब बैल का ऋण खाद,बीज एवं कीटनाशक दवाआें का वितरण निर्धारित लक्ष्यां से कहीं अधिक किया जाकर शासन की मॅंशा अनुरूप कार्यवाही की गई ।

किसानां को वर्ष 1999-2000 में 50 नये ट्रेक्टर खरीदे जाने के लिये ऋण स्वीकृत किये जाने का लक्ष्य रखा गया है,मात्र दो माह के अल्पकार्यकाल में ही 21 ट्रेक्टर हेतु ऋण स्वीकृत किया जाकर ऋण का वितरण किया गया ।

एकीकृत ग्रामीण विकास योजनार्न्तगत 53 हितग्राहियां को राशि रू. 20.34 लाख का ऋण उपलब्ध कराया जाकर राशि रू.4.65 लाख का अनुदान भी किसानां को राज्य शासन से दिलवाया गया ।

यहॉं यह भी उल्लेखनीय है कि भोपाल को-आप.सें.बैंक लि0भोपाल द्वारा स्वयं के साधनां से धनराशि जुटाई जाकर सारी योजनाआें का क्रियान्वयन किया जा रहा है इसमें मध्यप्रदेश शासन,नावार्ड,अपेक्स बैंक आदि किसी भी वित्तीय संस्थान से किसी भी प्रकार कोई ऋण किसी भी योजनार्न्तगत नहीं लिया गया है । बैंक द्वारा किसानां को अनाज संग्रह हेतु गोदाम निर्माण कार्य के लिये रू. 10.00 लाख की स्वीकृति की गई है एवं कमजोर समितियां को गोदाम मरम्मत एवं निर्माण कार्य हेतु रू.5.00 लाख का प्रावधान अनुदान दिये जाने के लिये स्वीकृत किया गया है ।

बैंक द्वारा अमानतदारां के विशेष सहयोग से बैंक निरंतर प्रगति की ओर अग्रसर है । वर्ष 1999-2000 में इस बैंक को शुद्ध लाभ 100.14 लाख था जो वर्ष 2000-2001 में बढ़कर 125.00 लाख होने की संभावना है ।

बैंक कर्मचारियां के कल्याणकारी योजनाआें के अर्न्तगत कर्मचारियां को भवन निर्माण हेतु ऋण ,कैशियर एवं केश से संबंधित कार्य करने वालां के लिये ग्रुप बीमा योजना रू.1.50 लाख प्रति कर्मचारी जोखिम बीमा करवाया गया है ।

कर्मचारियां के परिवार एवं कर्मचारियां के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु बैंक द्वारा चिकित्सकां की सेवायें उपलब्ध कराई गई है । मुनाफे की स्थिति में अपने कर्मचारियां को 20 प्रतिशत बोनस / एक्सग्रेशिया की स्वीकृति दी गई है एवं कृषि साख समितियां एवं समस्त प्रकार की शहरी क्षैत्र की अकृषि साख समितियां को बैंक मुनाफे से 15 प्रतिशत का लाभांश (डिविडेंट) की स्वीकृति दी जाकर उनके खातां में मुनाफे की राशि जमा कर दी गई हैं ।

BCC Bank

 

Bhopal Co- Operative Central Bank:

24-25, New Market,
T.T. Nagar ,
Bhopal, M.P., India.

Phone No : 2554147, 49, 2775470, 71
email :info@bccbank.in

BCC Bank ShowCase: